AUTHOR

National Register of Citizenship | National register of citizenship assam | no cab no nrc

National Register of Citizenship | National register of citizenship assam | no cab no nrc

National Register of Citizenship | National register of citizenship assam | no cab no nrc
National Register of Citizenship | National register of citizenship assam | no cab no nrc

सूची में उन्नीस लाख लोगों को शामिल नहीं किया गया है अब इन लोगों को विदेशी घोषित होने का ख़तरा पैदा हो गया है क्या आप जानते हैं कि राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर सूची क्या हैं और इसे असम में क्यों लागू गया है यदि

कोई अपने आप को भारत का नागरिक सिद्ध करना चाहता है तो उसे कीमती कागजातों की जरूरत पड़ेगी यदि नहीं तो आइए इस वीडियो के माध्यम से जानते है राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर है क्या है वोट रजिस्टर

ऑक्सीडेशन असम राज्य में एनआरसी को सबसे पहले उन्नीस सौ इक्यावन में नागरिक को उनके घरों और उनकी संपत्तियों को जानने के लिए तैयार किया गया था असम राज्य में एनआरसी को अपडेट करने की बात

इससे छात्र से और आसान सुरेश यूनियन द्वारा उठाई जा रही है असम समझौता बांग्लादेश की स्वतंत्रता से एक दिन पहले चौबीस मार्च उन्नीस सौ इकहत्तर की आधीरात को राज्य प्रवेश करने वाले बांग्लादेशी शरणार्थियों के नाम मतदाता सूची से हटाने और वापस बांग्लादेश भेजने के लिए बनाया गया था असम की आबादी लगभग

पैंतीस मिनट ये एकमात्र राज्य है जिसने एनआरसी को अपडेट किया है एनआरसी की प्रक्रिया में फुकरी कोर्ट के आदेश पर शुरू हुई थी राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर को देश असम में एनआरसी अपडेट का मूल उद्देश्य प्रदेश में विदेशी नागरिक और भारतीय नागरिक को पहचान करना और असम स्टूडेंट्स यूनियन जैसे संगठनों और

असंख्य अन् य नागरिको का दावा है कि बांग्लादेशी प्रवासियों ने उनके अधिकारों को लूट लिया है और वे राज्य में हो रही आपराधिक गतिविधियों में शामिल हैं इसलिए इन शरणार्थियों को अपने देश भेज दिया जाना चाहिए

एनआरसी के बारे में डेटा सरकार ने एनआरसी प्रक्रिया पर लगभग सौ करोड़ रुपये खर्च किए है इसमें पचपन हज़ार सरकारी अधिकारी शामिल हैं और पूरी प्रक्रिया में चौंसठ दशमलव चार दस्तावेजों की जांच की गई थी

असम का नागरिक कौन है पच्चीस मार्च उन्नीस सौ इकहत्तर से पहले असम में रहने वाले लोग असम के नागरिक मान ली जाती है इस प्रदेश में रहने वाले लोगों की सूची में दिए गए कागजातों में से कोई एक जमा करना था

इसके अलावा दूसरी सूची में दिए गए दस्तावेजों को अपने असंख्य पूर्वजों से संबंध स्थापित करने के लिए एक दस्तावेज पेश करना जिसमें ये माना जा सके कि आपके पूर्वज असम के ही थे लेकिन इनमें मांगे गए मुख्य

दस्तावेज़ इस प्रकार हैं मार्च उन्नीस तक इलेक्ट्रोड का अनारसिंह किराया और किराएदारी के रिकॉर्ड सीरीज सब सर्टिफिकेट रेजिडेंस सत्र के पास बैंक और एलआईसी जोखिम में परमानेंट रेसिडेंट्स जा सके एजुकेशन सर्टिफिकेट अंकोर ड रिकॉर्ड रेफ्यूजी रजिस्ट्रेशन

Post a comment

0 Comments