AUTHOR

स्टीफन हॉकिंग की जीवनी Stephen Hawking Biography In Hindi

स्टीफन हॉकिंग की जीवनी Stephen Hawking Biography In Hindi 

स्टीफन हॉकिंग की जीवनी Stephen Hawking Biography In Hindi
स्टीफन हॉकिंग की जीवनी Stephen Hawking Biography In Hindi 

 Stephen Hawking Biography In Hindi 
क्योंकि मरने से पहले ज़िन्दगी में बहुत कुछ करना बाकी है ऐसा कहना है महान और अद्भुत वैज्ञानिक स्टीफन हॉकिंग का कोई अंग काम नहीं करता जाना चाहते हैं स्टीफन का कहना है कि मृत्यु निश्चित है लेकिन जन्म और मृत्यु के बीच कैसे जीना चाहते हैं वह हम पर निर्भर करता चाहे जिंदगी जितनी भी कठिन हो आप हमेशा कुछ न

कुछ कर सकते हैं और सफल हो सकते हैं जन आठ जनवरी में इंग्लैंड के स्पोर्ट्स में हुआ था जब स्टीफन हॉकिंग का जन्म उस समय दूसरा विश्वयुद्ध चल रहा था स्टीफन हॉकिंस के माता पिता लंदन के हाइड सिटी में रहते थे जहाँ पर अक्सर बमबारी हुआ करती थी जिसकी वजह से वह अपने पुत्र के जन्म के लिए स्पोर्ट चले आए

जहाँ पर सुरक्षित रूप से स्टीफन हॉकिंग का जन्म हो सका बचपन से ही हॉकिंग बहुत ही इंटेलीजेंट थे उनके पिता डॉ और माइक हाउस वाइफ थी स्टीफन की बुद्धि का परिचय है इसी बात से लगाया जा सकता है कि बचपन में लोगसत्रह वर्ष की उम्र में उन्होंने ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में प्रवेश ले

Stephen Hawking Biography In Hindi 
स्टीफन हॉकिंग की जीवनी Stephen Hawking Biography In Hindi
 Stephen Hawking Biography In Hindi 

लिया आग सपोर्ट में पढ़ाई के दौरान उन्हें अपने दैनिक कार्यों को करने में थोड़ी दिक्कत लगी थीं एक बार स्टीफन छुट्टियां मनाने के लिए अपने घर पर आए हुए थे तभी सीढ़ियों से उतरते समय वह बेहोश हो गए और नीचे गिर गयी शुरु में तो सभी कमज़ोरी मात्र समझकर ज्यादा ध्यान नहीं दिया लेकिन बार बार इसी तरह के

बहुत से अलग अलग प्रॉब्लम्स होने के बाद जांच करवाया तो पता चला उन्हें कभी ठीक होने वाली बीमारी है जिसका नाम निराण उल्टा किसी था इस बीमारी में मांसपेशियों को नियंत्रित करने वाली सारीं नसीब धीरे धीरे

Post a comment

0 Comments