AUTHOR

Shakti Kapoor Biography in Hindi | Shakti Kapoor Biography | Shakti Kapoor Family | Shakti Kapoor first Movie | Shakti Kapoor History


Shakti Kapoor Biography in Hindi | Shakti Kapoor Biography | Shakti Kapoor Family | Shakti Kapoor first Movie | Shakti Kapoor History
Shakti Kapoor Biography in Hindi | Shakti Kapoor Biography | Shakti Kapoor Family | Shakti Kapoor first Movie | Shakti Kapoor History      

करते हैं फ़िल्म बना लो या बनालो एक कमीडियन दो लोगों की गाड़ियां हमने वह में अगर तुम कोई भी बात का पता तो अपने गाने गुलाबो दिखाते है सांता नहीं जॉब है एक जबरदस्त अभिनेता सूखे भवन तो सूखी भवन तो सुखी भवन हर प्रकार का रोल निभाया है शक्ति कपूर रहे हमारे दादा का नाम क्या था रीना मुरलीकृष्ण और

हमारे भाग का मेरा ना मुरलीकृष्ण और हमारा गुरु तुमको क्या हो गया अपना नाम बोलें जन्म का नाम सुनील कपूर जन का स्थान नई दिल्ली सुनील कपूर करोलबाग इलाके में रहा करते थे सुनील कपूर शक्ति कपूर बने हैं और कैसे फिल्मों में इतना नाम बनाया की पूरी दास्तां देखते हैं जन्म तीन सितंबर से दिल्ली में हुआ अपने माता

पिता के चार सौ अनुमान से ये दूसरे नंबर पर थे उनके पिता की टेलर की दुकान थी नई दिल्ली के एक मांसपेशी इलाके में पिता का नाम सिकंदरलाल कपूर और माँ एक हाउस वाइफ रहीं सुशीला कपूर शक्ति कपूर ओपन से ही बदमाशी में नंबर वन पे थे उन्हें तीन स्कूलों से बाहर निकाल दिया गया था बोली चाय फ्रैंक एंथोनी पब्लिक

स्कूल और सलवान पब्लिक स्कूल ये अक्सर स्कूल के झगड़ों में पकड़े जाते हैं और ख़राब बर्ताव की वजह से बाहर कर दिया जाता है आप मुझे सबके सामने उठाया मैं आपको छोड़ वाले इन छात्रों तुम्हारी सजा पूरी नहीं हुई

दिन ब दिन तुम्हारे गंदी करतूत से बढ़ती जा रही है इसलिए अगर एक महीने के अन्दर अन्दर में शादी करके घर बसा लिया तो ठीक है वरना तुम एक गांव से निकाल दिया जाएगा जिनके पिता चाहते थे की फॅमिली बिज़नेस में सहयोग करे पर शक्ति कपूर ट्रैवल एजेंसी खोलना चाहते थे और यही वजह रही इन दोनों बीच में तनाव बना रहा

तब इन दोनों में से कोई नहीं जानता था कि आने वाले वक्त में शक्ति कपूर जबरदस्त एक्टर बन जाएंगे एक पुराने पन्नों को पलट कर देखो बृहस्पति की पत्नी चान के साथ गयी जो उसके पति के पास शिक्षा प्राप्त करने के लिए आता था क्या लोग उसे पतिव्रता नहीं मानते राम के पांव टकराकर मनुष्य का रूप धारण करने वाले लिया

जिसके बारे में सब जानते हैं या लोग उसे पता नहीं मानते किसकी मजाल के पाँचवे वाली रोटी को पचपन मनीष में इसलिए मैं कहता हूँ कि तुम मूली के साथ शक्ति ने दिल्ली यूनिवर्सिटी के किरोड़ीमल कॉलेज ग्रेजुएशन की

उन्हें बचपन से क्रिकेट का शौक था और क्रिकेट की वजह से ही इनका कॉलेज में एडमिशन भी हुआ था और कॉलेज में अपने क्रिकेट टीम की कैप्टन की गर्लफ्रेंड के साथ उनका रिश्ता बन गया जिसकी वजह से एक और

नाम खड़ा हो गया और शक्ति कपूर ने एक लड़की और क्रिकेट दोनों ही छोड़ दिया धीरे धीरे कदम मोडलिंग की तरफ बढ़े हैं नाराज इंसान के रूप में कोई लड़की पसंद नहीं इसलिए ये बांसुरी या वस्त्र ये

Shakti Kapoor Biography in Hindi | Shakti Kapoor Biography | Shakti Kapoor Family | Shakti Kapoor first Movie | Shakti Kapoor History
Shakti Kapoor Biography in Hindi | Shakti Kapoor Biography | Shakti Kapoor Family | Shakti Kapoor first Movie | Shakti Kapoor History      

Shakti Kapoor Biography

Shakti Kapoor Biography in Hindi | Shakti Kapoor Biography | Shakti Kapoor Family | Shakti Kapoor first Movie | Shakti Kapoor History
Shakti Kapoor Biography in Hindi | Shakti Kapoor Biography | Shakti Kapoor Family | Shakti Kapoor first Movie | Shakti Kapoor History      
Shakti Kapoor Biography in Hindi 

Post a comment

0 Comments