AUTHOR

अमिताभ बच्‍चन जीवनी amitabh bachchan biography in hindi

अमिताभ बच्‍चन जीवनी amitabh bachchan biography in hindi

अमिताभ बच्‍चन जीवनी amitabh bachchan biography in hindi
अमिताभ बच्‍चन जीवनी amitabh bachchan biography in hindi



युवा औरतों के शरीर का सामना करके दौलत कमाने वाले लोग कमा लेते थे लेकिन अपनी माँ का साथ करनेवाला मैने अपनी जिंदगी में पहली बार देखा है ये कहानी है एक ऐसे अभिनेता की जिसमें रिजेक्शन से हाँ सभी ने कहा कि इसके साथ काम कौन करना चाहेगा पल बना सदी का महानायक जिन्हें हम अमिताभ बच्चन के नाम से जानते हैं माइकल जॉब में माँ का दूध बनाया जाना कभी लोग मेरा नाम भी करना ही अमिताभ बच्चन

अमिताभ बच्‍चन जीवनी

साहब का जन्म ग्यारह अक्टूबर सन् उन्नीस सौ बयालीस इलाहाबाद में हुआ पिता महान कवि हरिवंश राय बच्चन माँ तेजी बच्चन ये क्या डैड मैं वहाँ क्या करूँगा बिज़नेस के बारे में मुझे क्या मिला जब उनका जन्म हुआ था तब इनका नाम इंकलाब रखा गया ऐसा माना गया कि वो दौर था जब भारत छोड़ो आंदोलन चल रहा था और सभी क्रांति की भावना के साथ आगे बढ़ रहे थे इसलिए उनका नाम इंकलाब रखा है और बाद में अमिताभा यानी कभी ना मिटने वाला हो जाला अमिताभ गाना ये कौन सा यह सब पड़ने वाला चन्द्र स्थान नया एजेंट लेकिन भरकर

अमिताभ बच्‍चन जीवनी

अच्छा था काम विधायक से काम नहीं सलाम करना बेकार है ये बात तो सभी जानते हैं कि फ़िल्म सात हिंदुस्तानी से अमिताभ बच्चन साहब ने अपनी एक्टिंग करियर का सफर शुरू किया यह बात गौर करने लायक कि उस वक्त की आपका केस तीनों आनंद ने अमिताभ बच्चन की फोटो ग्राहक के आवास तक पहुंचाई थी क्योंकि खुद तीनों आनन्द उस फ़िल्म में रोल नहीं करना चाहते थे उन्हें मौका मिल गया था सत्यजीत रे साहब के साथ बतौर असिस्टेंट डायरेक्टर बनने का लिहाजा अमिताभ बच्चन साहब का नाम सामने आया ये जेल है खेलते हैं बड़ी

अमिताभ बच्‍चन जीवनी

मुश्किल खेलते मगर गोमिया में तो हिलते हैं ये जल रहे हैं रैगिंग करियर पर बात करने से पहले गौर करना होगा इस बात पर इनकी आवाज़ को एक नहीं बल्कि दो बार ऑल इंडिया रेडियो ने रिजेक्ट कर दिया था पर हैरानी इस बात की होती है कि फ़िल्म इंडस्ट्री में उनकी पहली कमाई हुई वॉइस ओवर से ही जी हाँ भवन शो में उन्होंने नरेशन किया था जिसके लिए उन्हें तीन सौ रुपये मिले थे अच्छा चल रहा बस थोड़ा सा और सिद्ध उसके बाद

अमिताभ बच्‍चन जीवनी


देखना आम दोनों अपना अलग साबित कर लेंगे अमिताभ बच्चन की मुफलिसी का आलम यह था कतते में नौकरी छोड़कर मुंबई की तरफ आए कुछ रात में इन्हें मरीन ड्राइव फुटपाथ पर बितानी पड़ी वक्तव्यों भी था कि वह बतौर एक्स्ट्रा एक फ़िल्म में ऐक्टिंग करने गए थे ये भीड़ में खड़े थे और उन्हें थोड़ा सा मेहनताना मिलना

Post a comment

0 Comments