AUTHOR

भारत के सबसे लोकप्रिय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का जीवन कहानी Life Story of India's Most Popular Prime Minister Narendra Modi

भारत के सबसे लोकप्रिय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का जीवन कहानी 

 Life Story of India's Most Popular Prime Minister Narendra Modi
 Life Story of India's Most Popular Prime Minister Narendra Modi
Life Story of India's Most Popular Prime Minister Narendra Modi

और इसलिए किसी से भी नहीं डरता हूँ ऐसा करना हैं दुनिया की सबसे शक्तिशाली लोगों में शामिल भारत के
सबसे लोकप्रिय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का,उनका जीवन बहुत ही साधारण तरीके से शुरू हुआ.मगर अपनी देशभक्ति अपने जज्बे और अपनी मेहनत के दम पर उन्होंने ऐसी सफ लता हासिल की जिसके बारे में कोई सोच भी नहीं सकता था.वे एक बेहद गरीब परिवार में पैदा हुए अपने बचपन के दिनों में जब बच्चे खेलने कूदने में.




 अपना समय व्यतीत करते हैं तब उन्होंने अपने घर की आर्थिक आय था के लिए. अपने पिता की दुकान में हाथ बट आई और ट्रेन के डिब्बों में जाकर चाय बेची लेकिन दोस्तों अगर आपके. अंदर अपने देश के लिए कुछ कर जाने की इच्छा हम शुरू से मोदी जी के चाय बेचने से लेकर प्रधानमंत्री बनने तक के. अद्भुत सफर को डिटेल में जानते हैं जीके मैथ्स जिले में. वडनगर नाम के गांव में हुआ था .दूसरे बता दूं कि बॉम्बे राज्य पहले भारत का एक राज्य था जिसे एक मई में अलग कर गुजरात और. महाराष्ट्र बना दिया गया तो इस तरह अब मोदी जी का जन्म

भारत के सबसे लोकप्रिय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का जीवन कहानी
Add caption
भारत के सबसे लोकप्रिय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का जीवन कहानी 

स्थान गुजरात राज्य के अंतर्गत आता है नाम हीराबेन .मोदी है जन्म के समय उनका परिवार बहुत गरीब था और, वे एक छोटे से कच्चे मकान में रहते थे तीसरे पुत्र हैं मोदी के पिता रेलवे स्टेशन पर चाय की एक छोटी सी दुकान चलाते थे जिसमें नरेंद्र मोदी भी ,उनका हाथ बँटाते थे और रेल के डिब्बों में जाकर चाय बेचते थे ,लेकिन हाँ चाय की दुकान संभालने के साथ साथ मोदी ,पढ़ाई लिखाई का भी पूरा ध्यान रखते थे मोदी के टीचर बताते हैं कि नरेंद्र पढ़ाई लिखाई में तो एक ठीकठाक छात्र थे लेकिन वे नाटकों और भाषाओं में जमकर, हिस्सा लेते थे और उन्हें खेलकूद में भी बहुत दिलचस्पी थी उन्होंने ,अपने स्कूल की पढ़ाई वार्नर से पूरी की सिर्फ,

Post a comment

0 Comments